पशुमित्र की पंचायत स्तर एवं इसके देश के ग्रामीण विकास में महत्ता को सबों के सामने रखा- नेशनल अकादेमी ऑफ रुडसेटी नई दिल्ली…..

www.swarnindianews.com

सूचना भवन, बोकारो।

रिपोर्टर:सुनिल पोद्दार,राँची

दिनांक- 08-02-2021

■ देश के विकास में ग्रामीण विकास का होना सबसे अहम- उपायुक्त…

■ ग्रामीण विकास एवं देश के सर्वांगीण विकास में आपका सहयोग एवं आपकी महत्ता अपने आप में महान है- उपायुक्त…

■ आरसेटी बैंक ऑफ इंडिया बोकारो में डोमैन स्किल ट्रेनर के सर्टिफिकेशन कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि उपायुक्त के द्वारा आरसेटी कार्यालय परिसर में दीप प्रज्वलित किया गया।

■ उपायुक्त ने महिला प्रशिक्षणार्थियों को शुभकामनाएं दिए

■ ग्रामीण विकास मंत्रालय , भारत सरकार के द्वारा ” पशु मित्र ” के पायलट प्रोजेक्ट के तहत पूरे भारत में केवल 8 जिले मे प्रारम्भ किया गया है जिसमे से एक बोकारो RSETI भी शामिल है।

■ विगत 5 वर्षो से “AA” ग्रेड को बरकरार रखा है- निदेशक आरसेटी बोकारो…

■ पशुमित्र की पंचायत स्तर एवं इसके देश के ग्रामीण विकास में महत्ता को सबों के सामने रखा- नेशनल अकादेमी ऑफ रुडसेटी नई दिल्ली…..

बोकारो :- आज दिनांक 08 फरवरी, 2021 को आरसेटी बैंक ऑफ इंडिया बोकारो में डोमैन स्किल ट्रेनर के सर्टिफिकेशन कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि उपायुक्त श्री राजेश सिंह के द्वारा आरसेटी कार्यालय परिसर में दीप प्रज्वलित किया गया। उक्त कार्यक्रम के विशिष्ठ अतिथि नेशनल अकादेमी ऑफ रुडसेटी के कंट्रोलर श्री आर.आर. सिंह, आरसेटी के राष्ट्रीय निदेशक श्री बी.सी.साहा, बैंक ऑफ इंडिया बोकारो अंचल के आंचलिक प्रबन्धक श्री धनंजय कुमार एवं झारखंड के असिस्टेंट कंट्रोलर श्री सी. बी. पाण्डेय शामिल थे। कार्यक्रम की शुरुआत में निदेशक आरसेटी श्री अंतोष कुमार ने उपायुक्त महोदय सहित समारोह मे उपस्थित सभी पदाधिकारियों एवं डीएसटी सर्टिफिकेशन मे आए सभी मास्टर ट्रेनर्स का स्वागत कर कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य बताया।

■ ग्रामीण विकास एवं देश के सर्वांगीण विकास में आपका सहयोग एवं आपकी महत्ता अपने आप में महान है-
उपायुक्त श्री राजेश सिंह ने सभी महिला प्रशिक्षणार्थियों को दृष्टांत से संबोधित करते हुए कहा कि आप सभी अर्जुन की तरह दृष्टांत हैं और आपसे काफी अपेक्षाएँ हैं। ग्रामीण विकास एवं देश के सर्वांगीण विकास में आपका सहयोग एवं आपकी महत्ता अपने आप में महान है। इस प्रशिक्षण के उपरांत आप सभी गाँव एवं पंचायत स्तर पर जो अपना सहयोग देंगी वो पूरे देश को एक नयी दिशा की ओर ले जाएगा एवं देश के आर्थिक विकास में एक नया आयाम जोड़ेगा। साथ ही उन्होने कहा की अगर इस प्रोजेक्ट मे या आरसेटी बोकारो में किसी भी प्रकार की उनकी मदद या जरूरत पड़ी तो वो हमेशा तैयार है। इसके लिए सभी पदाधिकारियों ने उनका धन्यवाद किया।

■ विगत 5 वर्षो से “AA” ग्रेड को बरकरार रखा है-
निदेशक आरसेटी श्री अंतोष कुमार ने बताया कि आरसेटी बोकारो किस तरह कोविद महामारी के बावजूद अपने लक्ष्य को पूरा किया एवं विगत 5 वर्षो से “AA” ग्रेड को बरकरार रखा हुआ है। उन्होने बताया कि ग्रामीण विकास मंत्रालय , भारत सरकार के द्वरा ” पशु मित्र” के पायलट प्रोजेक्ट के तहत पूरे भारत में केवल 8 जिले मे प्रारम्भ किया गया है जिसमे से एक बोकारो RSETI भी है। इसके लिए ग्रामीण विकास मंत्रालय, भारत सरकार और नेशनल अकादेमी ऑफ रुडसेटी, बैंग्लोर का तहे दिल से आभार और धन्यवाद कि उन्होने इतना विश्वास बैंक ऑफ इंडिया RSETI Bokaro के प्रति रखा। इस पशु मित्र प्रशिक्षण कार्यक्रम में बोकारो के सभी नौ प्रखंडों से 35 महिला प्रशिक्षणार्थी प्रशिक्षण ले रही हैं। इस प्रोग्राम में काफी फील्ड विजिट करवाया गया है। साथ जिला पशुपालन पदाधिकारी से क्लास करवाया गया है और इस प्रोग्राम के मास्टर ट्रेनर भी काफी क्वालिफाइड हैं और इस क्षेत्र मे उन्हे काफी वर्षो का अनुभव भी है। हम चाहते हैं कि जब ये महिलाएं यहा से प्रशिक्षण लेकर जाए तो अच्छी आजीविका मिले और इनको JSLPS, NRLM और MoRD के द्वारा अच्छा सपोर्ट मिले ताकि सही दिशा मे संसाधनो का समुचित उपयोग कर अपने जीवन को एक नया आयाम दे सके। हमारी सोच सिर्फ ट्रेनिंग देना ही नहीं बल्कि इन्हे अच्छी आजीविका मिले ये प्रयास हमेसा से रहा है।

■ पशुमित्र की पंचायत स्तर एवं इसके देश के ग्रामीण विकास में महत्ता को सबों के सामने रखा-
नेशनल अकादेमी ऑफ रुडसेटी के कंट्रोलर श्री आर.आर. सिंह ने पशु मित्र कि सभी महिला प्रशिक्षणार्थीयों को शुभकमनाएँ दी एवं पशुमित्र की पंचायत स्तर एवं इसके देश के ग्रामीण विकास में महत्ता को सबों के सामने रखा। उन्होने से उपायुक्त महोदय को इस पायलट प्रोजेक्ट के बारे में अवगत कराया एवं उन्हे सहयोग एवं इस प्रोजेक्ट मे उनकी विशेष रुचि हेतु धन्यवाद दिया एवं कहा कि उनके सहयोग से इस प्रशिक्षण का शुभारंभ संभव हो पाया है। यह आरसेटी बोकारो एवं नेशनल अकादेमी ऑफ रुडसेटी के लिए गौरव कि बात है। इसके बाद उन्होने सभी प्रशिक्षणार्थियों कि सफलता हेतु एवं DST सर्टिफिकेशन मे आए सभी मास्टर ट्रेनर्स के सफल होने हेतु शुभकमनाएँ दी।

■ कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु पूरे टीम को धन्यवाद देते हुये कार्यक्रम के समापन की-
कार्यक्रम के अंत मे बैंक ऑफ इंडिया के आंचलिक प्रबन्धक ने उपायुक्त महोदय, आरसेटी के कंट्रोलर, नेशनल डाइरेक्टर, असिस्टेंट कंट्रोलर एवं इस कार्यक्रम मे उपस्थित सभी प्रशिक्षंर्थियों एवं DST ट्रेनर्स और इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु पूरे टीम को धन्यवाद देते हुये कार्यक्रम के समापन की घोषणा की।

================================
जिला हेल्पलाइन नंबर
044-331-24222( Toll Free)
9304368511
06542-222111

चास नगर निगम हेल्पलाइन नंबर 18005723626 (Toll Free)

## टीम पीआरडी, बोकारो##

MSP था, MSP है और MSP रहेगा… खत्म कीजिए आंदोलन: PM मोदी

MSP था, MSP है और MSP रहेगा… खत्म कीजिए आंदोलन: PM मोदी

कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसानों के आंदोलन की तपिश के बीच सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यसभा को संबोधित किया. अपने संबोधन में पीएम मोदी ने विपक्ष को जमकर घेरा, लेकिन साथ ही आंदोलनकारी किसानों से एक खास अपील भी की. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि MSP था, MSP है और MSP रहेगा, किसानों को आंदोलन खत्म करना चाहिए.

www.swarnindianews.com

‘MSP था, है और रहेगा…’
कृषि कानूनों के मसले पर पीएम मोदी ने कहा कि सदन में सिर्फ आंदोलन की बात हुई है, सुधारों को लेकर चर्चा नहीं की गई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब लाल बहादुर शास्त्री जी को जब कृषि सुधारों को करना पड़ा, तब भी उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ा था. लेकिन वो पीछे नहीं हटे थे. तब लेफ्ट वाले कांग्रेस को अमेरिका का एजेंट बताते थे, आज मुझे ही वो गाली दे रहे हैं. पीएम ने कहा कि कोई भी कानून आया हो, कुछ वक्त के बाद सुधार होते ही हैं.

पीएम मोदी ने अपील करते हुए कहा कि आंदोलनकारियों को समझाते हुए हमें आगे बढ़ना होगा, गालियों को मेरे खाते में जाने दो लेकिन सुधारों को होने दो. पीएम मोदी ने कहा कि बुजुर्ग आंदोलन में बैठे हैं, उन्हें घर जाना चाहिए. आंदोलन खत्म करें और चर्चा आगे चलती रहे. किसानों के साथ लगातार बात की जा रही है. पीएम मोदी ने किसानों को भरोसा दिलाया कि MSP है, था और रहेगा. मंडियों को मजबूत किया जा रहा है. जिन 80 करोड़ लोगों को सस्तों में राशन दिया जाता है, वो भी जारी रहेगा.

कृषि कानूनों पर विपक्ष को घेरा
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार समेत कई कांग्रेस के नेताओं ने भी कृषि सुधारों की बात की है. शरद पवार ने अभी भी सुधारों का विरोध नहीं किया, हमें जो अच्छा लगा वो किया आगे भी सुधार करते रहेंगे. पीएम मोदी ने कहा कि आज विपक्ष यू-टर्न कर रहा है, क्योंकि राजनीति हावी है.

पीएम मोदी ने पढ़ा मनमोहन का बयान
पीएम मोदी ने सदन में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का कथन पढ़ा, ‘हमारी सोच है कि बड़ी मार्केट को लाने में जो अड़चने हैं, हमारी कोशिश है कि किसान को उपज बेचने की इजाजत हो’. पीएम मोदी ने कहा कि जो मनमोहन सिंह ने कहा वो मोदी को करना पड़ रहा है, आप गर्व कीजिए. पीएम मोदी ने कहा कि दूध का काम करने वाले, पशुपालन वाले, सफल का काम करने वालों के पास खुली छूट है. लेकिन किसानों को ये छूट नहीं है.

आपको बता दें कि किसानों के आंदोलन को विपक्ष की ओर से लगातार हंगामा किया गया. हालांकि, राष्ट्रपति के अभिभाषण में ही समय को बढ़ाकर किसानों के मसले पर चर्चा की गई. सरकार की ओर से पहले भी कई बार किसानों से बात की जा चुकी है, हालांकि अभी बातचीत रुकी है. लेकिन अब पीएम मोदी के बयान के बाद एक बार फिर से उम्मीद जगी है.

अवैध विदेश शराब के मिनी फैक्ट्री का उद्भेदन, भारी मात्रा में शराब बरामद, दो गिरफ्तार।।
रिपोर्टर:सुनील पोद्दार

मिनी फैक्ट्री का उद्भेदन

www.swarnindianews.com

जमशेदपुर।सहायक आयुक्त, उत्पाद श्री अरूण कुमार मिश्रा के निर्देशानुसार बर्मामाइंस थाना अंतर्गत कैरेज कॉलोनी, चुना भट्टा कब्रिस्तान के बगल में एक झोपड़ीनुमा घर में चल रहे अवैध विदेशी शराब के मिनी फैक्ट्री का उद्भेदन किया गया । उत्पाद विभाग की टीम द्वारा भारी मात्रा में विभिन्न ब्रांड के विदेशी शराब, कॉर्क एवं स्टीकर बरामद किया गया है वहीं घटनास्थल से 02 व्यक्ति गिरफ्तार किए गए हैं जबकि फैक्ट्री संचालक फरार है ।
जब्त प्रदर्श-
Gold Whisky 750ml (बिक्री हेतु राज्य का नाम अंकित नहीं)- 120 पेटी (1440 बोतल)
Imperial Blue Whisky 750ml (For sale in Haryana only)- 06 पेटी (72 बोतल)
Imperial Blue Whisky375ml (For sale in Haryana only)- 05 पेटी(120 बोतल)
Imperial Blue Whisky 180ml (For sale in Haryana only)- 11 पेटी (528 बोतल)
McDowells No.1 Whisky 375ml- 01 पेटी (24 बोतल)
McDowells No.1 Whisky 180ml- 01 पेटी (48 बोतल)
विभिन्न ब्रांड के कॉर्क- 400 पीस
उत्पाद आसंजक लेबल(EAL)- 15 लीफ
विभिन्न ब्रांड के स्टीकर(Front&Back)- 100 लीफ
विभिन्न ब्रांड के खाली बोतल- 500 बोतल
कुल जब्त अवैध विदेशी शराब- 144 पेटी (1291.68 लीटर।

मिनी फैक्ट्री का उद्भेदन

हजरत कुतुबुद्दीन रिसालदार बाबा का 213 वाँ सालाना उर्स आज से शुरू।

राँची से सुनील पोद्दार की रिपोर्ट

www.swarnindianews.com

अध्यक्ष रऊफ गद्दी के आवास से निकला शाही संदल व चादर
रांची: हजरत कुतुबुद्दीन रिसालदार बाबा का 213 वॉ सालाना उर्स आज 5 नवंबर से शुरू हो गया। पहला शाही संदल और चादर दरगाह कमिटी के अध्यक्ष हाजी अब्दुल रऊफ गद्दी के मकान से निकला और बाबा के दरबार मे चादर पोशी की गई। कमिटी के महासचिव मोहम्मद फ़ारूक़ और अध्यक्ष हाजी रऊफ गद्दी ने संयुक्त रूप से बताया कि इस वर्ष कोरोना के कारण उर्स 213 वा उर्स सरकारी गाइडलाइन कर अनुसार हो रहा है। न कोई भीड़ भाड़ न कोई बाहर से क़व्वाल आ रहा है। कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए जगह जगह सेनिटाइजर, मास्क रखा गया है। हाजी रउफ ने बताया कि महिलाओं के लिए अलग से आने जाने का रास्ता बनाया गया है। पुरुषों के लिए अलग रास्ता हैं। मोहम्मद फ़ारूक़ ने बताया के उर्स के लिए 11 अक्टूबर को ही 6-7 छोटी छोटी कमिटी तीन चार लोगों को लेकर कमिटी बना दी गई है ताकि किसी भी तरह की कोई परेशानी नही हो। और जिसके जिम्मा जो काम दिया गया है वो सब अपने अपने काम मे लगे है।
8 तारीख को मोहम्मद फ़ारूक़ के आवास पर होगा नातिया मुशायरा
दरगाह कमिटी के महासचिव मोहम्मद फ़ारूक़ के आवास से शाही संदल और चादर 8 नवंबर 2020 को निकलेगा। इनके आवास पर ही नातिया मुशायरा का मुकाबला होगा। मोहम्मद फ़ारूक़ ने बताया कि इस वर्ष उर्स मैदान में किसी भी तरह का कोई दुकान नही लगा है। कोरोना के कारण झूला, मेला नही लगा है।
टीम बनाकर काम को बांटा गया
5 से 9 नवम्बर तक उर्स होना है। पहला गेट मर्दो के लिए जिनमे शहजाद बबलू, शाहिद प्रेस, मो इक़बाल, ताजुल आरफीन, राज गद्दी, अमानुल्लाह, इरफान, आदिल रशीद, हुसैन। दूसरा गेट महिलाओं के लिए जिनमे सरफराज गद्दी, कलाम गद्दी, इमामुद्दीन, रिज़वान, हाजी मुख्तार। तीसरा गेट महिलाओं के लिए जिनमे अन्नू राजा, जमाल, शाहिद, जब्बार, जावेद शामिल है। लंगर में महफूज, नासिर, अनवर, गोल्डी हैं। चन्दा करने में मंजूर, ख्वाजा। ऑफ़िस में सराफत हुसैन, शुएब अंसारी, हाजी जाकिर, पप्पू गद्दी, हाजी रऊफ गद्दी, मो फ़ारूक़, बबलू पण्डित, फ़िरोज मुन्ना हैं। मज़ार के अंदर में सैफ अली, मंजूर, इक़बाल, मसूद फरीदी, अतीकुर्रहमान, इरफान, पप्पू गद्दी, मनान हैं। चादर में मो इक़बाल, सैफ अली, इमामुद्दीन, राजा होंगे। मीडिया में शाहिद, पप्पू गद्दी, फ़िरोज मुन्ना, आदिल रशीद, खाजा मुजाहिद, सरफ़राज़ कुरैशी, मो शाहीन हैं।मौके पर दरगाह कमिटी के सदस्य सह सेंट्रल मुहर्रम कमिटी के महासचिव अक़ीलुर्रह्मान, हारून कुरैशी, जावेद, मोहम्मद शकील, समाजसेवी सैयद आसिफ, भाजपा के मोहम्मद साकिब समेत कई लोग थे।

www.swarnindianews.com

अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी के विरोध में पत्रकारों ने किया प्रदर्शन

राँची से सुनील पोद्दार की रिपोर्ट

रांची। पत्रकार अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी के विरोध में रांची के पत्रकारों ने महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। अलबर्ट एक्का चौक में रांची प्रेस क्लब के अध्यक्ष राजेश कुमार सिंह के नेतृत्च में पत्रकारों ने हाथों में तख्तियां लेकर विरोध प्रदर्शन किया और महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। पत्रकार अर्नब गोस्वामी को रिहा करो, पत्रकार एकता जिंदाबाद, महाराष्ट्र सरकार हाय हाय तथा पत्रकारों पर हमला बंद करो आदि नारा लगाकर अर्नब गोस्वामी की गिरफ्तारी का विरोध कर रहे थे। इस अवसर पर अपने संबोधन में प्रेस क्लब के अध्यक्ष राजेश कुमार सिंह ने कहा कि यह पत्रकार और उनके स्वतंत्रता पर सीधा सीधा हमला है। महाराष्ट्र सरकार पुलिसिया कार्रवाई से पत्रकारों को डराने का काम कर रही है। सचिव अखिलेश कुमार सिंह ने कहा कि अर्नब की गिरफ्तारी पत्रकारिता पर हमला है। महाराष्ट्र सरकार का यह कदम लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला है। विरोध प्रदर्शन करने वालों में मुख्य रूप से गिरजा शंकर ओझा, पिंटू दूबे, संजय मिश्रा, ब्रजेश राय, सुरेंद्र सोरेन, आनंद कुमार, मनीष कुमार, सुनील सिंह, सुशील सिंह, सुनील पोद्दार, संजीव मिश्रा, विनय मुर्मू, सुनील चौधरी, अजय गुप्ता, दिलीप कुमार सहित सैकड़ों पत्रकार शामिल थे।

1) बाइट:-राँची प्रेस क्लब, महासचिव (अखिलेश सिंह)
2) बाइट:-बरिष्ठ पत्रकार, राँची,
संजय मिश्रा

#दुर्गापूजा गाइडलाइन# राँची प्रशासन से आग्रह,नए सिरे से करें विचार : स्वामी दिव्यानंद जी महाराज जी

रिपोर्टर:-सुनील पोद्दार

राँची, झारखण्ड |अक्टूबर | 11, 2020 : विश्व हिंदू परिषद केंद्रीय मार्गदर्शक मंडल के सदस्य संत सुरक्षा मिशन के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और भारत रक्षा मंच के प्रधान संरक्षक स्वामी  दिव्यानंद जी महाराज ने एक विज्ञप्ति जारी कर यह कहा कि प्रशासन के द्वारा दुर्गापूजा से सम्बंधित जो गाइड लाइन जारी किया है,

वह बिल्कुल ही सनातन हिंदू सनातन समाज के लिए लज्जा जनक एवं चिंताजनक है,  हिंदू संस्कृति को नष्ट करने की चेष्टा जो चल रही है उस से प्रेरित होकर प्रशासन इस प्रकार का गाइडलाइन जारी किया है ऐसा प्रतीत होता है,  मां दुर्गा की प्रतिमा को या पंडाल को काले कपड़े से ढकना, प्रसाद वितरण ना करना और भजन आदि बजाने पर भी रोक यह एक अत्यंत ही चिंताजनक बात है,
एक जागरूक नागरिक होने के नाते हम यह मानने को तैयार हैं की कोविड-19 से सावधानी के लिए आपस में दूरी बनाए रखना, मास्क का उपयोग करना, ज्यादा भीड़ इकट्ठा ना होना, इन सारी चीजों इसका अनुपालन अवश्य होनी चाहिए,  सहमत है किंतु प्रतिमा की साइज का निर्णय करना, पंडाल को ढक कर रखना, इस से क्या संबंध है कोरोना से,
स्वामी जी ने यह  भी बताया कि जब किसी की मृत्यु में शव यात्रा में दो हजार लोग एकत्रित हो सकते हैं, कोरोनकाल में योद्धाओं के द्वारा भोजन, राशन या अन्य सुविधाओं को उपलब्ध कराने हेतु जो लोग कार्य किए उसने कोई रिस्क नहीं लगा,  किंतु एक अनुशासन का पालन करते हुए यदि प्रसाद भोग का वितरण किया जाए या सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए सीमित लोगों को पंडाल में प्रवेश दी जाए, मेले ठाले आदि पर अवश्य रोक होनी चाहिए,  भजन आदि पर रोक दूसरी ओर दिन में कई बार लाऊडस्पीकर से कहीं-कहीं सी की आवाज आती है,  उससे कोई दिक्कत नहीं है, किंतु हिंदू धर्म का सबसे बड़ा त्यौहार दुर्गा पूजा मां शक्ति की आराधना में एक पूजा का वातावरण मात्र बने, लोगों को धार्मिक आस्था मन में बनी रहे, मन में एक उत्सव का वातावरण रहे, ईस कारण से भजन आदि का बजना अति आवश्यक है,  लोग ऐसे भी पिछले कई महीनों से कई प्रकार के बंधनों के कारण अवसाद की स्थिति में बहुत लोग पहुंच चुके हैं, ऐसे समय में भक्ति भाव और उमंग का वातावरण से लोगों के मन में एक शक्ति एक ऊर्जा का संचार होगा, साथ ही हम भारतवासी देवी-देवताओं पर आस्था रखने वाले हैं, यह भी विश्वास है की माता शक्ति का आगमन हो रहा है इससे जो आपदा चल रही है कदाचित माता रानी इस से भी निजात दिलाएंगी, लोगों को इसके लिए प्रार्थना भी करनी चाहिए,
अतः स्वामी जी ने बताया दुर्गा पूजा समितियों से भी आग्रह है इस दिशा में इन बिंदुओं पर विचार करते हुए प्रशासन के साथ मिल बैठकर नए सिरे से विचार करें,  साथ ही प्रशासन को भी यह सूचित करना चाहते हैं, की करोड़ों लोगों की धार्मिक भावना को ख्याल में रखते हुए पुणे नए सिरे से विचार कर ऐसी दिशा निर्देश दें जो कोरना की सावधानी से संबंध रखता है और किसी की भावना को ठेस ना पहुंचे इस बात का ख्याल रखना सरकार और प्रशासन का दायित्व भी है इसे अवश्य निभानी चाहिए|

www.swarnindianews.com

Repoter:-sunil poddar

संयुक्त राष्ट्र में भारत ने चीन को फिर दी मात, अब अगले चार साल तक बनी रहेगी कसक

National Desk

Report:-Sunil poddar

संयुक्त राष्ट्र में भारत ने चीन को मात देते हुए इकोनॉमिक एंड सोशल काउंसिल (ECOSOC) से जुड़े आयोग में जगह बना ली है। यह आयोग महिलाओं की स्थिति पर काम करता है। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस तिरुमूर्ति ने ये जानकारी दी है।  तिरुमूर्ति कहा, भारत ने प्रतिष्ठित ECOSOC में सीट हासिल की है। भारत महिलाओं की स्थिति पर आयोग (सीएसडब्ल्यू) का सदस्य चुना गया है। ये बताता है कि महिलाओं को लेकर हमारी प्रतिबद्धता किस तरह की है और महिला सशक्तिकरण की दिशा में हम कितना काम कर रहे हैं। हम सभी सदस्यों का इसके लिए आभार व्यक्त करते हैं।  बता दें कि इस साल प्रसिद्ध बीजिंग वर्ल्ड कॉन्फ्रेंस की 25वीं सालगिरह मनाई जा रही है और इसी दौरान चीन को झटका भी लगा है। भारत इस आयोग का अगले चार साल तक सदस्य बना रहेगा। आयोग में इस सीट को पाने के लिए भारत, चीन और अफगानिस्तान के बीच मुकाबला था। भारत और अफगानिस्तान को 54 में से अधिकतर सदस्यों का साथ मिला, जबकि चीन को निराशा ही हाथ लगी। अंतत: यह सीट भारत ने हासिल कर ली।

सुशांत सिंह राजपूत की यह आखिरी फ़िल्म !

कलाकार – लेट सुशांत सिंह राजपूत , संजना सांघी , स्वास्तिका मुखर्जी , शाश्वत , सैफ अली खान संगीत – ए. आर रहमान निर्देशन – मुकेश छाबरा,

नई दिल्ली (सुनील पोद्दार ) – एक था राजा एक थी रानी दोनों मर गए ख़त्म कहानी कुछ इस प्रकार मूवी की ओपनिंग लाइन खुलती है जिसे किज़ी बासु सुनाती है मूवी में किज़ी बासु का किरदार संजना सांघी ने पेश किया है ! लेकिन इसके उलट जन्म कब लेना है और मरना कब है ये हम डिसाइड नहीं कर सकते लेकिन जीना कैसे है ये हम डिसाइड कर सकते इस जिंदादिल कहानी के इर्द गिर्द घूमती है सुशांत सिंह राजपूत की यह आखिरी फ़िल्म ! कहानी – फ़िल्म में कहानी कुछ इस प्रकार है जमशेदपुर में एक बंगाली फैमिली रहती है जिसमें उनकी एक बेटी है जिसका नाम है किज़ी बासु जो थायरॉयड कैंसर से जूझ रही है व पूरी मूवी में वह अपने पुष्पेन्द्र नाम के ऑक्सीजन सिलेंडर को अपने कंधे पर लिए घूमती है अपनी इस बीमारी के चलते किज़ी बासु कहीं ना कहीं बहुत मायूस है और जिंदगी जीना मानो उसने लगभग छोड़ सा दिया है …इसी बीच उसकी लाईफ में एंट्री होती इमैनुअल राजकुमार जूनियर उर्फ़ मेनी की जिसको पेश किया है सुशांत सिंह राजपूत ने …मेनी एक जिंदादिल और खुशमिजाज लड़का है जो सबके चेहरे पर हसी के आता है वह मायूस रहने वाली किज़ी बासु को भी अच्छा लगता है वह उसको घूमता है जीवन के नए फंडे बताता है..कहानी में सुशांत भी कैंसर की वजह से अपनी एक टांग कटवा चुका है पर वह उसकी परवाह किए बिना ख़ुशी से रहता है और ये ही मंत्रा किज़ी बासु को भी देता है ! फ़िल्म में सुशांत और संजना की केमस्ट्री बहुत ख़ूब लग रही है व किज़ी के किरदार में संजना ने जस्टिस किया है वह मासूमियत उनके चहरे पर नज़र आती है …सुशांत का यह बेस्ट तो नहीं पर उम्दा काम है ..इस कहानी को नॉवेल द फॉल्ट इन ऑवर स्टार पर आधारित किया गया है ! फ़िल्म में आगे किज़ी बासु अपने पसंदीदा सिंगर अभिमन्यु वीर से मिलना चाहती है जिसने एक गाना लिखा है मैं तुम्हारा रहा पर वह गाना अधूरा है जिसके बारे में पूछने के लिए किज़ी और मेनी पेरिस जाते है पर उन्हें अभिमन्यु वीर के हाव भाव पागलों वाले नज़र आते है इस किरदार को सैफ़ अली खान ने निभाया ही किरदार छोटा है पर कहानी के हिसाब से महत्वपूर्ण है ..पेरिस में ही मेनी अपने बढ़ते हुए कैंसर के बारे ने किज़ी को बताता है ! मौत से लड़ते – लड़ते किज़ी और मेनी एक दूसरे के क़रीब आ जाते है व मेनी किज़ी के हर सपने को पूरा करना चाहता है और आखिर में खुद ख़ुशी – ख़ुशी मौत से लड़ता हुआ चला जाता है और किज़ी को जीवन में ख़ुश रहने का मंत्रा दे जाता है ! क्या है खास – फ़िल्म का निर्देशन व मुकेश छाबरा ने बहुत अच्छे से किया है यह उनकी पहली फिल्म है डायरेक्टर के रूप में उन्होंने 1 घंटे 41 मिनट की इस मूवी में जनता को बांधे रखने की पूरी कोशिश की है जिसमें वह कहीं ना कहीं कामयाब होते नजर आते है .. फ़िल्म में जमशेदपुर की बहुत ख़ूबसूरत और प्यारी लोकेशन्स दिखाई गई है जिसके बाद कहानी पेरिस भी जाती है ..जमशेदपुर को पिछली बार इतना खूबसूरत उड़ान में दिखाया गया था ! क्या है कमी – इस प्रकार की थीम पर बॉलीवुड में पहले भी फिल्में आ चुकी है जैसे कल हो ना हो व आनंद लेकिन यह कहानी थोड़ी अलग है और आपको पसंद जरूर आएगी …वहीं जहां एक और किज़ी बासु का पूरा किरदार और बैकराउड फिल्म दिखाया जाता है पर मेनी का बैकराउंड कहानी में छोड़ दिया गया है जिस से कहानी थोड़ी अधूरी सी लगती है ! संगीत – ए. आर रहमान साहब ने फिल्म संगीत बहुत ही खूबसूरती से सजाया है जो कहानी के साथ एक दम सटीक बैठता है मैं तुम्हारा रहा गाना दिल को छू जाता है ! देश की जनता में तुम्हारी इस आख़िर फिल्म को देखने का कितना पागलपन है इसे देखने के लिए काश तुम जिंदा होते सुशांत मात्र 2 घंटे में डिज़्नी हॉट स्टार क्रैश हो गया व ऑनलाइन देखे जानी वाले ना जाने दिल बेचारा कितने रिकॉर्ड तोड़ेगी ..अभी तो तुम में से बहुत कुछ बेस्ट आना बाकी था सुशांत तुम जहां भी हो भाई ख़ुश रहो !

डेस्क:-स्वर्ण इंडिया न्यूज,राँची

www.swarnindianews.com

अभिनेता अनुपम खेर की मां समेत भाई और भाभी कोरोना संक्रमित।

*अभिनेता अनुपम खेर की मां समेत भाई और भाभी कोरोना संक्रमित। सभी की टेस्ट रिपोर्ट आई पॉजिटिव, अनुपम खेर ने ट्वीट कर दी जानकारी। अनुपम खेर ने भी कराया था टेस्ट, उनकी रिपोर्ट निगेटिव।*