एक जनवरी 2019 को 18 वर्ष पूरा कर चुके युवक व युवती अभी भी मतदाता सूची में अपना नाम जुड़वा सकते हैं

 

हजारीबाग: सदर एसडीओ मेघा भारद्वाज ने कहा कि एक जनवरी 2019 को 18 वर्ष पूरा कर चुके युवक व युवती अभी भी मतदाता सूची में अपना नाम जुड़वा सकते हैं। ऐसे अभ्यर्थी बूथ पर जाकर संबंधित दस्तावेज के साथ फार्म-6 देकर नाम जुड़वा सकते हैं, या फिर आॅनलाइन डब्लू डब्लू डब्लू एनबीएसपी डाॅट इन में अपना प्रपत्र भर सकते हैं। मतदाता सूची में नामांकन की अंतिम तिथि के 48 घंटे पहले तक नाम जोड़वाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि पिछले दिन चले अभियान में केवल महिलाओं के 716 नाम जोड़े गए हैं। उन्होंने यह भी बताया कि विधानसभा चुनाव को लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। उन्होंने कहा कि प्राथमिक स्तर पर ईवीएम की जांच का काम हो चुका है। खराब ईवीएम को वापस भेजा गया है, जल्द ही विधानसभा में भेजे जाने वाले ईवीएम का रैंडमाईजेशन राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों की मौजूदगी में किया जाएगा। प्रत्येक प्रखंड स्तर पर दो-दो ईवीएम देकर मतदान के लिए जागरूकता जगाने का काम किया जा रहा है। एसडीओ ने बताया कि टाॅल-फ्री नंबर 1950 पर काॅल कर चुनाव विशेषकर मतदाता सूची से संबंधित कोई भी जानकारी प्राप्त की जा सकती है। सी-विजिल की चर्चा करते हुए कहा कि आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन पर रोक लगाने के लिए यह महत्वपूर्ण टूल साबित हो रहा है। इस पर की गई शिकायत को 100 मिनट के अंदर निष्पादन करने का प्रावधान है। उन्होंने सभी जानकार लोगों से सी-विजिल डाउनलोड कर इसका उपयोग करने की अपील की। एसडीओ मेघा भारद्वाज ने यह भी बताया कि अब चुनाव के समय रैली, सभा के आयोजन के लिए सुविधा एप के माध्यम से ही आवेदन दिया जाना है और वह भी 48 घंटे पहले प्रपत्र के साथ आनलाइन भरना है। प्रपत्र पूरा भरने के बाद आनलाइन विभाग द्वारा अन्य विभागों से स्वीकृति प्राप्त कर अनुमति संबंधित राजनीतिक दल व प्रत्याशी को उपलब्ध करा दिया जाएगा।

एक जनवरी 2019 को 18 वर्ष पूरा कर चुके युवक व युवती अभी भी मतदाता सूची में अपना नाम जुड़वा सकते हैं

इसके पूर्व एसडीओ ने राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ भी बैठक की।

बाइट = मेघा भारद्वाज, अनुमंडल पदाधिकारी हजारीबाग

शराबी पति को रस्सी से बांधकर रखा

हजारीबाग विष्णुगढ़ खरकी: शराबी पति की गंदी हरकतों से परेशान महिला ने अपने पति को रात भर घर के आंगन में रस्सी से बांधकर रखा महिला का कहना है कि उसका पति शराब पीकर रोज उसके साथ गाली गलौज और मारपीट करता था। लाख समझाने के बाद भी वह अपनी आदत से बाज नहीं आ रहा था ।गांव वालों ने भी कई बार समझाया लेकिन आदत में कोई सुधार नहीं हुआ। सुबह होते ही ठंड से ठिठुरते हुए नशेड़ी पति ने अपने पत्नी से एवं ग्रामीण महिलाओं के सामने हाथ जोड़कर माफी मांगा और अपनी आदत में सुधार लाने का वादा किया तो पत्नी ने छोड़ दिया।पत्नी द्वारा नशेड़ी पति को रस्सी से बांधकर सबक सिखाने की खबर इलाके में चर्चा का विषय बन रही है।