बरहेट में पी एम मोदी जनसभा को संबोधित करते हुए हुए बोले,अगर कांग्रेस में हिम्मत हैं तो कहें पाक के हर नागरिक को देगी नागरीकता

दुमका/रांची । झारखंड विधानसभा चुनाव के पांचवे और आखिरी चरण के लिए 20 दिसंबर को मतदान किए जाएंगे। इसको देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को बरहेट में सभा करने पहुंचे। प्रधानमंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं आज कांग्रेस और उनके साथी दलों को खुलेआम चुनौती देता हूं कि अगर उनमें हिम्मत हैं तो वो खुलकर घोषणा करें कि वो पाकिस्तान के हर नागरिक को भारत की नागरिकता देने के लिए तैयार हैंl देश उनका हिसाब चुकता कर देगा।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस और उसके साथियों में अगर साहस है तो खुलकर ये भी घोषणा करें कि वो जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में फिर से अनुच्छेद 370 को लागू करेंगे। अगर हिम्मत है, तो वो ये भी खुलकर घोषणा करें कि तीन तलाक के खिलाफ जो कानून बना है, उसे रद्द कर देंगे।

पीएम ने कहा कि कांग्रेस और इसके साथी इस चुनौती को स्वीकार करें और खुलकर ये ऐलान करें वरना देश से झूठ बोलना, भ्रम फैलाना और दूसरों को अपनी ढाल बनाकर ये गुरिल्ला राजनीति करना बंद कर दें।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस और उसके साथी देश के युवाओं को बर्बाद करने का ये खेल खेलना बंद कर दें। कांग्रेस की बांटो और राज करो इसी नीति की वजह से देश का एक बार बंटवारा हो चुका है। मां भारती के टुकड़े पहले हो चुके हैं। यही कांग्रेस है जिसने अवैध तरीके से लाखों घुसपैठियों को भारत में घुसने दिया, यहां उनको वोटबैंक के नाम पर इस्तेमाल किया।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज झारखंड की इस धरती से, इन वीर पुत्रों की धरती से, देश के मर-मिटने वाले इन बलिदानियों की धरती से मैं फिर एक बार पूरे देश को, देश के प्रत्येक नागरिक को, चाहे हिंदू हो मुसलमान हो, हर को फिर से कहना चाहता हूं इस कानून से किसी भी भारतीय नागरिक की नागरिकता पर कोई भी असर नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि मैं फिर से स्पष्ट कर दूं, भारत सरकार का एक ही ग्रंथ है बाबा साहब आंबेडकर का दिया हुआ संविधान। हमारे लिए एक ही मंत्र सर्वोपरि है और एक ही मंत्र हमारी प्रेरणा है।

पीएम ने कहा कि मेरा देश के कॉलेजों और विश्वविद्यालयों के युवा साथियों से भी आग्रह है कि आप अपने महत्व को समझें, जहां आप पढ़ रहे हैं उन संस्थानों का महत्व समझें। सरकार के फैसलों और नीतियों को लेकर चर्चा करें, डिबेट करें। उन्होंने कहा कि अगर आपको कुछ गलत लगता है तो लोकतांत्रिक तरीके से प्रदर्शन करें, सरकार तक अपनी बात पहुंचाएं। ये सरकार आपकी हर बात, हर भावना को सुनती, समझती है

प्रधानमंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मैं पूरे देश को, देश के प्रत्येक नागरिक को चाहे हिंदू हो या मुस्लिम को फिर ये कहना चाहता हूं कि इस कानून से किसी भी भारतीय नागरिक की नागरिकता पर कोई असर नहीं होगा।

उन्होंने कहा कि भारत के मुसलमानों को डराने के लिए कांग्रेस, उसके जैसे दलों और उसके वामपंथी इकोसिस्टम ने पूरी ताकत झोंक दी है। नागरिकता संशोधन कानून को लेकर फिर ये सफेद झूठ बोलने लगे हैं, लोगों को डराने लगे हैं।

पीएम मोदी ने कहा कि हमने जो कानून बनाया है वो तो हमारे पड़ोस के तीन देशों में, धार्मिक अत्याचार की वजह से भारत आने वाले लोगों के लिए बनाया गया है। ये उन लोगों के लिए बनाया गया है जो बरसों से बहुत दयनीय स्थिति में हैं, जिनके पास वापसी का कोई रास्ता नहीं है।

उन्होंने कहा कि वे जनता की सेवा करके राजनीति नहीं कर सकते अभी भी वे झूठ फैलाकर, डर फैलाकर अपनी राजनीति करने की आदत के भरोसे चल रहे हैं।

अनुच्छेद 370 को लेकर बोलते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अनुच्छेद 370 को लेकर भी इन्होंने यही डर दिखाया। अगर 370 को हाथ लगाया गया तो करंट लग जाएगा, करंट। बवाल हो जाएगा, देश का टुकड़ा हो जाएगा। यही बोलते थे न, यही डर दिखाते थे न।

पीएम ने कहा कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर में अलगाव को बढ़ने दिया, आतंकवाद को बढ़ने दिया। वहां से पंडितों को निकाला गया। ये देखते रह गए, लेकिन इन्होंने निर्णय नहीं लिया। लेकिन जब आपने इस सेवक को फिर आदेश दिया तो अनुच्छेद 370 भी समाप्त हो गया और शांतिपूर्ण तरीके से आज कश्मीर भी आगे बढ़ने लग गया।

उन्होंने कहा कि आपने इस डर को, इस छल को नकार दिया। पूरे देश ने इस कांग्रेस और उसके साथियों की नकारात्मक सोच को ही नकार दिया लेकिन लोगों को डराने को, झूठी बातों को फैलाने को, उन्होंने अपनी राजनीति का आधार बना लिया है- प्रधानमंत्री श्री

प्रधानमंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि साथियों! ये हमारे बरहेट में राम-जानकी विराजमान हैं। भगवान राम ने 14 साल आदिवासियों के बीच में अपना जीवन बिताया है। यहां भव्य श्रद्धा केंद्र राम जी का मंदिर है।

उन्होंने कहा कि आप मुझे बताइए, अयोध्या में रामजन्म भूमि का मामला इतने सालों से लटक रहा था, इसका समाधान होना चाहिए था कि नहीं होना चाहिए था। ये मसला शांति से सुलझना चाहिए था कि नहीं। सत्य के मार्ग के सबको चलना चाहिए था कि नहीं चलना चाहिए था।

पीएम ने कहा कि लेकिन ऐसा क्यों नहीं हुआ? क्योंकि वो वही काम करते थे, जिनमें अपनी राजनीति की रोटियां सेंकते रहें। इसलिए नहीं हुआ, क्योंकि इसका हल कांग्रेस और उसके साथी कभी नहीं चाहते थे। लटकाना, भटकाना इसी में उनकी राजनीति की खिचड़ी पकती थी।

प्रधानमंत्री ने सभा में कहा कि वो राजनीति करते रहे, सबको डराते रहे और देश अयोध्या में राममंदिर का इंतजार करता रहा। मेरे प्यारे भाइयों, बहनों! हम राष्ट्रनीति पर चले और अयोध्या में भव्य राममंदिर का रास्ता आज साफ हो गया।

उन्होंने कहा कि इस फैसले के बाद कहीं कोई तनाव नहीं हुआ ना ही कोई दंगा हुआ। ये सब चीजें शांति से हो गई। देश में सभी काम शांति से होने चाहिए। अब मोदी सबकुछ शांति से कर रहा है तो उनके (विपक्ष) के पेट में चूहे दौड़ रहे हैं।

पीएम ने कहा कि मोदी को, भाजपा को मिल रहा देश का प्यार इनको (विपक्ष) पच नहीं रहा है। इनको ये समझ ही नहीं आ रहा है कि जिन बातों को लेकर दशकों तक देश को इन्होंने डराया, वो आखिर झूठ क्यों साबित हुईं।

पीएम ने कहा कि झारखंड सहित देशभर की आठ करोड़ से अधिक बहनों को पहली बार मुफ्त गैस कनेक्शन मिला है। ये आदिवासी को भी मिला, पिछड़े को भी मिला, दलित को भी मिला, सामान्य वर्ग को भी मिला। हर पंथ, हर संप्रदाय के गरीबों को इसका लाभ मिला। उन्होंने कहा कि कमल का फूल खिलता है तो आदिवासियों का भला होता है, महिलाओं का भला होता है, किसानों का भला होता है और युवाओं का भला होता है।

पीएम मोदी ने कहा कि देशभर के करोड़ों गरीब किसानों, खेत मजदूरों, असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों, दुकानदारों को तीन हजार रुपये की पेंशन की सुविधा मिली है, वो भी बिना भेदभाव के। देश के करीब दो करोड़ गरीबों और झारखण्ड के 10 लाख गरीबों के लिए अगर घर बने तो ये भी बिना किसी भेदभाव के।

आयुष्मान भारत की तारीफ करते हुए पीएम ने कहा कि आयुष्मान भारत के अंतर्गत हर वर्ष पांच लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज भी देश के हर गरीब को मिल रहा है। इस योजना से पूरे देश के करीब 67 लाख और झारखंड के दो लाख से ज्यादा गरीब परिवारों का मुफ्त इलाज हो भी चुका है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज सच उजागर होकर आ गया है कि अगर सबसे ज्यादा सुरक्षा कहीं है तो वह भाजपा की सरकारों में ही है। वे इस बात से परेशान हैं, आखिर जिन मामलों को इन्होंने लटकाए रखा, ऐसे मसले लोगों को भी चिंतित कर देते थे, उत्तेजित कर देते थे, परेशान कर देते थे ऐसे मामलों को आज मोदी ने कैसे सुलझा दिया।

उन्होंने कहा कि दूर-दूर से इतनी बड़ी तादात में आप मुझे यहां आशीर्वाद देने आएं हैं। आपका यही स्नेह, आशीर्वाद तो जेएमएम, कांग्रेस, आरजेडी और देशभर के वामपंथियों को परेशान करता है, उनकी नींद हराम कर देता है। मोदी को, भाजपा को मिल रहा देश का प्यार इनको पच नहीं रहा है।

प्रधानमंत्री ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि झारखंड में चार चरणों का मतदान हो चुका है और हर चरण में भारी एवं शांतिपूर्ण मतदान हुआ है। झारखंड के मतदाताओं ने डर और भय से मुक्त होकर मतदान किया है। इस बार भी हर तरफ एक ही आवाज है – ‘झारखण्ड पुकारा, भाजपा दोबारा’।

उन्होंने कहा कि वीर वीरांगनाओं के आशीर्वाद से भाजपा सरकार पूरे देश में आदिवासी सेनानियों से जुड़े संग्रहालय बना रही है ताकि भारत के स्वतंत्रता संग्राम में, भारत के निर्माण में हिंदुस्तान के हर कोने में इन आदिवासी वीरों के योगदान में भारत हमेशा-हमेशा याद रखे।

पीएम मोदी ने कहा कि जब से भाजपा की एनडीए सरकार देश में है तबसे हर वर्ग, हर संप्रदाय के हित में हमने काम किया। झारखंड सहित पूरे देश के करोड़ों किसान परिवारों के बैंक खातों में 36 हजार करोड़ रुपये सीधे जमा हो चुके हैं। ये हर वर्ग, हर संप्रदाय के किसानों के खाते में जमा हुए हैं।

उन्होंने कहा कि जब गरीब को, आदिवासी को लगता है कि मेरा कोई अपना है जो दिल्ली में बैठकर उसका ध्यान रख रहा है, उसके बच्चों का ध्यान रख रहा है, तो गरीब से गरीब, जंगलों में रहने वाला मेरा भाई, मेरी बहनें हम पर भरपूर आशीर्वाद बरसाते हैं।

इस चुनाव में प्रचार के लिए राज्य में यह उनका छठा दौरा है। इससे पहले उन्होंने दुमका में भी सभा की थी। पांचवे चरण के चुनाव में झारखंड विधानसभा की 16 सीटों पर मतदान किए जाएंगे।

बरहेट से भाजपा ने सिमोन मालतो को अपना प्रत्याशी बनाया है, जबकि झामुमो ने गठबंधन की तरफ से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार हेमंत सोरेन को चुनावी मैदान में उतारा है। इस सीट पर भाजपा और कांग्रेस का सीधा मुकाबला है। बरहेट में मोदी के साथ बोरियो, लिट्टीपाड़ा, राजमहल, पाकुड़, महगामा और गोड्डा के उम्मीदवार भी मंच पर मौजूद रहेंगे।

2014 में हुए विधानसभा चुनावों में इन 16 सीटों में से छह सीटों पर झामुमो, पांच पर भाजपा, तीन पर कांग्रेस और दो पर जेवीएम ने जीत हासिल की थी। वहीं, साल 2009 में हुए इन विधानसभा सीटों के चुनाव में नौ सीटों पर झामुमो, दो पर भाजपा, दो पर जेवीएम और एक-एक सीट कांग्रेस, राजद और निर्दलीय प्रत्याशियों ने जीत हासिल की थी।

रिपोर्ट:-दुमका बयूरो

जिले के पुलिस कप्तान वाई एस रमेश ने एक क्राइम बैठक का आयोजन किया

दुमका।।जिले के पुलिस कप्तान वाई एस रमेश ने एक क्राइम बैठक का आयोजन कियाविधानसभा चुनाव को देखते हुए अपराध पर पूर्ण नियंत्रण के लिए जिले के पुलिस कप्तान वाई एस रमेश ने एक क्राइम बैठक का आयोजन किया।बैठक में जिले के सभी डीएसपी ,एसडीपीओ ,सभी थाना के इंस्पेक्टर मौजूद थे ।बैठक में विशेष रूप से होने वाली संभावित चुनाव को लेकर एक रणनीति तैयार करने पर विचार विमर्श किया गया।साथ ही क्षेत्र में शांति पूर्ण और बिना किया भय के चुनाव सम्पन्न कराने के लिए ऐंटी नक्सल ऑपरेशन चलाने का निर्देश दिया गया।इसके अलावे सोशल मीडिया पर नजर रखने के साथ आईटी सेल को एक्टिव रहने की आदेश दी गई ताकि किसी भी गड़बड़ी या फिर भ्रामक संदेश फैलाने से रोका जा सके।इसके साथ ही दुमका में हो रहे छठ पूजा को ध्यान में रखते हुए पुलिस पदाधिकारियों के साथ चर्चा की गई।

इधर जिले में पहुँचे 51 पुलिस प्रोबेशनर अफसरों को बेहतर प्रशिक्षण देकर देश और राज्य के एक बेहतर अधिकारी बनाने पर बल दिया।
Byte वाई एस रमेश एसपी दुमका